Elections

सिद्धू के बयान पर भाजपा का पलटवार, पूछा- 'क्या सोनिया गांधी हिन्दुस्तानी हैं'

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में की गई नवजोत सिंह सिद्धू की टिप्पणी के लिये कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भाजपा ने शनिवार को कहा कि सिद्धू मोदी जी की तुलना 'काले अंग्रेज' से करते हैं, तो क्या सोनिया गांधी हिंदुस्तानी है ? भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ सिद्धू ने मोदीजी और हिन्दुस्तानियों को काला अंग्रेज कहा है मैं आपसे पूछता हूं, मोदी जी काले अंग्रेज और सोनिया जी हिंदुस्तानी? ये कहां का न्याय है? मोदी जी काले हैं तो क्या हुआ दिलवाले हैं, मोदी जी काले हैं तो क्या हुआ गरीबों के रखवाले हैं। ’’ उन्होंने जोर दिया कि मोदी को हिंदुस्तान प्यार करता है और मोदी जी हिंदुस्तान को प्यार करते हैं। इसलिए ये केवल मोदी जी का नहीं बल्कि हिंदुस्तान का अपमान है ।

पात्रा ने कहा कि सिद्धू ने कहा है कि मोदी जी उस नयी-नवेली दुल्हन की तरह हैं जो रोटी कम बेलती हैं और चूड़ियां ज्यादा खनकाती हैं। उन्होंने कहा कि इस एक ही वाक्य में सिद्धू जी ने कांग्रेस की मानसिकता को दिखाया है कि कांग्रेस पार्टी ‘‘रेसिस्ट भी है और सेक्सिस्ट भी।’’ उन्होंने कहा कि 23 मई को चुनाव परिणाम के साथ ही यह रंग उतर जायेगा ।

संबित पात्रा ने सवाल किया कि नवजोत सिंह सिद्धू अभी तक सैम पित्रोदा के 1984 के सिख विरोधी दंगों पर दिए बयान को लेकर कुछ क्यों नहीं बोले? 'टाइम' पत्रिका में प्रधानमंत्री मोदी से जुड़े लेख के संदर्भ में पात्रा ने कहा कि पाकिस्तानी लेखक इस लेख के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहा है और राहुल गांधी इसे ट्वीट कर रहे हैं।

खबरों के अनुसार जनसभा के दौरान पंजाब सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी की तुलना 'काले अंग्रेजों' से की थी।

वहीं नवजोत सिंह सिद्धू के "काले अंग्रेजों" वाले विवादास्पद बयान की निंदा करते हुए केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने शनिवार को कहा कि पूर्व क्रिकेटर इन दिनों लगातार अनर्गल और उद्दण्डतापूर्ण बयान दे रहे हैं।

गहलोत ने न्यूज से कहा, "रंगभेद को लेकर सिद्धू का यह बयान निंदनीय है। भारत, दुनिया का सर्वश्रेष्ठ प्रजातान्त्रिक देश है और हम भारतीयों में काले-गोरे के रंग भेद का वातावरण कभी नहीं रहा। लेकिन सिद्धू आजकल लगातार अनर्गल और उद्दंडतापूर्ण बयान दे रहे हैं।" उन्होंने कहा, "एक जमाने में दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों में काले-गोरे का झगड़ा चलता था। लेकिन अब तो दुनिया में ऐसा झगड़ा समाप्त हो गया है। ऐसे में सिद्धू रंगभेद को लेकर अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं जो सरासर अनुचित है।" इंदौर में शुक्रवार रात एक चुनावी सभा में सिद्धू ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था, "यह कांग्रेस देश को आजादी देने वाली पार्टी है, मौलाना आजाद की पार्टी है, महात्मा गांधी की पार्टी है। उन्होंने गोरों से आजादी दी थी और तुम इंदौरवालो, अब काले अंग्रेजों से इस देश को निजात दिलाओगे। इन चोरों से, इन चोर चौकीदारों से इस देश को निजात दिलाओगे।"

DO NOT MISS