ANI
ANI

Elections

PM पर विवादित बयान देने वाले मणिशंकर अय्यर को अमर सिंह ने याद दिलाई ''अपनी ऐतिहासिक झड़प''

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के बयान का हर तरफ विरोध हो रहा है. खुद कांग्रेस पार्टी ने भी अय्यर के बयान से किनारा करते हुए उन्हें माफी मागंने के लिए कहा है. इसके साथ ही उन्हें इस पूरे मामले पर कारण बताओ नोटिस दिया है और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी निलंबित कर दिया है. मणिशंकर अय्यर के बयान पर अब पूर्व समाजवादी पार्टी नेता अमर सिंह ने चुटकी ली है. इस मुद्दे पर अमर सिंह ने मणिशंकर अय्यर के बारे में कहा ''इस देश के कई नेता मणिशंकर अय्यर से पीड़ित हैं. जिनमें उमा भारती, दिबंगत नेता जयललिता जैसे और भी बड़े नाम इसमें शामिल हैं. इन लोगों के साथ मैं स्‍वयं भी मणि पीड़िता हूं.

एक किस्सा सुनाते हुए अमर सिंह ने कहा ''एक बार पूर्व प्रधानमंत्री आई. के गुजराल के भाई सतीश गुजराल के घर पर पार्टी थी. जिसमें मणिशंकर अय्यर नशे में चूर मदमस्‍त होकर काफी क्रूर बातें कर रहे थे. इस पार्टी में मेरी अय्यर से झड़प हो गई थी, ये एक ऐतिहासिक झड़प थी''. इसके साथ ही अमर सिंह ने कहा ''उस झड़प ने इतनी प्रसिद्धी पाई की जब कभी अय्यर संसद भवन के प्रांगण में किसी को बेइज्‍जत करने खड़े होते थे तो बीजेपी के सदस्य खड़े होकर कहते मणि बैठ जा नहीं तो अमर सिंह आ जाएगा''. 

आपको बता दें कि गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा था ''इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बाते करते हैं.. और वो भी जब अंबेडकर जी की याद में एक बहुत बड़ा इमारत का उद्धाटन हो रहा है..'' ''मुझे लगता है कि यह आदमी (प्रधान मंत्री मोदी) बहुत "नीच किस्म" का आदमी है. इसमें कोई सभ्यता नहीं है. ऐसे मौके पर इस तरह की गंदी राजनीति की क्या आवश्यकता है.''

मामले को तूल पकड़ता देख अपने विवादित बयान पर अय्यर ने सफाई देते हुए कहा 'नीच' शब्द से मेरा मतलब 'LOW' था. मेरे कहने का मतलब नीची जाति में पैदा होने वाले से नहीं था. नीच शब्द का अगर यह अर्थ भी हो सकता है तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं. अय्यर के इस बयान के बार चारों तरफ उनकी किरकिरीहो रही है.

DO NOT MISS