Accidents & Disasters

मुंबई हादसे पर R. भारत का खुलासा- '6 महीने पहले हुआ था पुल का ऑडिट'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

मुंबई में बीती शाम बड़ा हादसा हो गया, सीएसटी और बीटी लेन को जोड़ने वाला ब्रिज टूट गया। इस हादसे में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है और 36 घायल बताए जा रहे हैं। हादसे पर राजनीति भी तेज हो गई है। इस बीच हादसे की जिम्मेदारी लेने के बजाय एक दूसरे पर आरोप मड़े जा रहे हैं बीएमसी और रेलवे हादसे पर पल्ला झाड़ रहे हैं।

खानापूर्ति के नाम पर मुंबई पुलिस ने बीएमसी और सेंट्रल रेलवे के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मुंबई पुलिस ने 304ए के तहत लापरवाही बरतने का केस दर्ज किया है।

उधर फडणवीस सरकार ने पूरे हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं। तो अखिलेश यादव समेत कई विपक्षी पार्टियां मोदी सरकार पर हमला बोल रही हैं।

मुंबई में हुए इस हादसे के बाद रिपब्लिक भारत ने बड़ा खुलासा किया है, दरअसल 6 महीने पहले पुल का ऑडिट हुआ था। R.भारत के एक एक्सक्लुसिव रिपोर्ट है, जो बताती है कि कैसे महीनों से लापरवाही बरती जा रही थी।

जानकारी के मुताबिक 6 महीने पहले पुल का ऑडिट हुआ था जिसमें भारी लापरवाही बरती गई थी। ऑडिट करने वाले इंजीनियर ने पुल को अच्छी हालत में बताया था। चीफ इंजीनियर ने BMC को ऑडिट रिपोर्ट दी थी और छोटे रिपेयर की बात कही थी, लेकिन पुल की हालत को अच्छी बताया था।

ऑडिट रिपोर्ट की कापी हमारे पास है रिपब्लिक भारत के खुलासे पर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। और जांच के आदेश भी दिए।

सीएसटी स्टेशन से बीटी लेन को जोड़ने वाले ब्रिज को आम लोग कसाब ब्रिज कहते हैं, और इस बदनाम नाम वाले पुल ने कल छह लोगों की जिंदगी ले ली। शाम साढ़े सात बजे इस ब्रिज का एक हिस्सा गिर गया, जिसकी वजह से छह लोगों की मौत हो गई, करीब 36 लोग घायल हो गए।

इसे भी पढ़ें - मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसा: ट्रैफिक की रेड लाइट ने कुछ यूं बचाई दर्जनों लोगों की जान...

सवाल ये है कि आखिर इस हादसे का जिम्मेदार कौन है, R.भारत के पास इस कसाब पुल से जुड़ी एक एक्सक्लुसिव रिपोर्ट है, जो बताती है कि कैसे महीनों से लापरवाही बरती जा रही थी। रेलवे और बीएमसी की लापरवाही ने 6 लोगं की जान लील ली।