Bollywood News

अनुराग कश्यप की फिल्म से शुरूआत के लिए हामी भर देता : वरुण धवन

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

अभिनेता वरुण धवन ने रविवार को कहा कि उनका झुकाव पहले लीक से हटकर कहानी वाली फिल्मों की तरफ था और वह अपनी क्षमता के अनुसार अनुराग कश्यप के निर्देशन में फिल्म उद्योग में आने के लिए कुछ भी कर सकते थे .

भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) में पणजी,​​​में वरुण धवन अपने पिता फिल्मनिर्माता डेविड धवन के साथ एक सेशन ‘धा-वन’ में बोल रहे थे . इसका संचालन लेखक रूमी जाफरी कर रहे थे . इस सेशन में श्रोता दीर्घा में ‘बदलापुर’ के निर्देशक श्रीराम राघवन और आईएफएफआई इंडियन पैनोरमा के अध्यक्ष राहुल रवैल भी मौजूद थे .

धवन ने कहा, ‘‘ प्रारंभ में मेरा झुकाव यथास्थिति को तोड़ने वाले सिनेमा की तरफ था . मुझे ‘ब्लैक फ्राइडे’ काफी पसंद आई थी . श्रीराम की फिल्मों की तरफ मेरा झुकाव था . संभवत: मैं अनुराग कश्यप के हाथों बॉलीवुड में आने को तैयार हो जाता .'

इस पर डेविड धवन ने कहा, ‘‘ थैंक गॉड”

यह भी पढ़ें - रिलीज से पहले '2.0' ने तोड़ सारे 'रिकॉर्ड', कमाए 490 करोड़! फैंस के सिर चढ़ा रजनीकांत- अक्षय का जादू...

वरुण धवन ने कहा, “ जब उन्होंने अपने पिता को ‘बदलापुर’ के बारे में बताया था तो उन्होंने इसे नकारात्मक रूप में लिया था .'

डेविड धवन ने कहा, ‘‘ मैंने देखा कि वरुण ने किरदार के लिए दाढ़ी बढ़ा ली थी और उसने हंसना भी छोड़ दिया था . वह करीब 20 दिनों से बात नहीं कर रहा था . मैंने इस पर अपनी पत्नी से पूछा था कि वह अपनी दाढ़ी कब कटाएगा . लेकिन मैंने सोचा था कि फिल्म अच्छी ही बनेगी .'

यह भी पढ़ें -  पत्नी का हुआ मिसकैरेज, तो बुरी तरह टूट गए हॉलीवुड एक्टर निक कार्टर, सोशल मीडिया पर यूं किया दर्द बयां

वहीं वरुण धवन ने यह भी खुलासा किया कि वह ‘बदलापुर’ करने के बाद भावनात्मक रूप से परेशान चल रहे थे और एक मनौवैज्ञानिक के पास भी गए थे .

अभिनेता ने मानसिक स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देते हुए कहा कि अपने मन के बारे में बात करने में कुछ भी गलत नहीं है.

(इनपुट - भाषा से भी) 

DO NOT MISS