Pooja B/instagram
Pooja B/instagram

Bollywood News

मुंबई के आदिवासी गांववालों की मदद के लिए आगे आईं पूजा भट्ट, दिया एक महीने का राशन

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

कोरोना वायरस ने कई लोगों की ज़िन्दगी तबाह कर दी है। देश में एक लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो गए हैं जबकि हजारों ने अपनी जान गंवा दी है। जो महामारी से दूर हैं, उन्हें घर और खाने जैसी बुनियादी चीज़ों के लिए तरसना पड़ रहा है। ऐसे में कई लोग सामने आकर इन जरुरतमंदो की मदद कर रहे हैं। कोई उनके रहने का इन्तेजाम कर रहा है तो कुछ लोग उन्हें फ़ूड पैकेट्स बांट रहे हैं।

90 के दशक की मशहूर अदाकारा पूजा भट्ट भी कोरोना से प्रभावित लोगों की मदद के लिए आगे आईं हैं। उन्होंने मुंबई के बाहरी इलाकें में रहने वाले लोगों को एक महीने का राशन मुहैया कराया है। अभिनेत्री ने ट्विटर पर बताया कि उन्होंने अपना ज्यादातर समय कलोते मोकाशी नाम के एक गांव में बिताया है। जब लॉकडाउन की घोषणा हुई तो उन्होंने इस आदिवासी गांव के 85 परिवारों को एक महीने का राशन दान किया।

उन्होंने यह भी लिखा था कि उनकी अंतरात्मा उन्हें भरे पेट सोने नहीं देगी अगर गांव का एक भी व्यक्ति भूखा सोता है तो। पूजा ने लिखा कि इसमें या तो सभी एक साथ हैं या कोई नहीं है।

पूजा के इस नेक काम की हर कोई तारीफ कर रहा है। उनकी सौतेली मां सोनी राजदान ने भी उनके इस कदम की सराहना की।

कुछ दिन पहले पूजा ने सोशल मीडिया के जरिये प्रवासी मजदूरों की समस्याओं पर अपना दुख ज़ाहिर किया था। उन्होंने एक वायरल तस्वीर पोस्ट करते हुए मजदूरों से मांफी मांगी और साथ ही उनके योगदान की सराहना की। उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा कि सभी मजदूरों को सम्मान मिलने का अधिकार है।

इसके अलावा, उनकी सौतेली बहन और मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट ने भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अपना योगदान दिया है। उन्होंने पीएम-केयर्स फण्ड में दान करने के साथ साथ एक फण्ड-रेजर कॉन्सर्ट ‘I for India’ में हिस्सा भी लिया था।

साक्षी बंसल की रिपोर्ट