Bollywood News

पिता विनोद दुआ पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों पर मल्लिका दुआ ने तोड़ी चुप्पी, "यदि मेरे पापा सच में दोषी है तो...."

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

यौन शोषण के खिलाफ शुरू हुए #मीटू अभियान के तूफान ने रविवार को और जोर पकड़ लिया. कई महिलाओं ने मनोरंजन और मीडिया जगत में यौन शोषण से जुड़े अपने अनुभव साझा किए. पिछले कुछ सालों में कथित यौन शोषण का शिकार बनीं महिलाओं ने अपने कथित गुनहगारों के नाम सार्वजनिक किए जिसके साथ सोशल मीडिया पर नए नामों की बाढ़ सी आ गयी. 

इसी बीच जाने माने पत्रकार विनोद दुआ भी इस  #मीटू अभियान के तूफान में चपेट में आते दिख रहे हैं. पत्रकार निष्ठा जैन  ने फेसबुक के जरिए विनोद पर यौन शोषण का आरोप लगाएं हैं. निष्ठा जैन से लंबे चौड़े फेसबुक पोस्ट के जरिए दो घटनाओं का जिक्र किया.

इसी बीच विनोद दुआ की बेटी और कॉमेडियन मल्लिका दुआ ने पूरी घटना पर चुप्पी तोड़ते हुए निष्ठा जैन को ट्विटर पर संबोधित करते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है कि निष्ठा जैन जी अगर मेरे पिता उन सब के दोषी हैं जो अपने बताया है तो यह अस्वीकार्य और दर्दनाक है. मैं ऐसे आंदोलन और आवाजों के समर्थन में एकजुटता में हूं लेकिन इसमें मेरा नाम खींचना एक घटिया सोच है. अवसरवादी भक्त और RM ट्रोल के लिए, और जो मुझ पर सवाल उठा रहे हैं. वो भाड़ में जाओ. मैं अभी भी कट्टरता, महिलाओं से घृणा करने वाले, पीड़ित लोगों के लिए खड़ी होंगी, और जो कुछ भी मैं विश्वास करता हूं."  


बता दें, इससे पहले निष्ठा जैन ने अपने लंबे चौड़े पोस्ट में लिखा था कि मैं नौकारी के लिए विनोद दुआ से मिली थी.  लेकिन विनोद दुआ ने मुझे देखते हुए सेक्सुअल जोक मारा. लेकिन वो जोक इतना  सेक्सुअल था कि वो बिल्कुल हंसाने लायक नहीं था. वह आगे लिखती है कि जब मैंने नौकरी के लिए बतौर सैलरी 5000 रूपये मांगे तो विनोद दुआ ने उनसे कहा कि 'तुम्हारी औकात है क्या?' निष्ठा जैन आगे कहती है कि उस दिन उनका जन्मदिन था लेकिन इस घटना की वजह से सब खराब हो गया. 


उन्होंने दूसरी घटना का जिक्र करते हुए लिखा कि मुझे दूसरे ऑफिस में बतौर वीडियो एडिटर नौकरी मिल गई थी लेकिन विनोद दुआ का जानने वाला वहीं काम करता था इस लिए उन्हें यह कि भनक लग गई.  उन्होंने आगे कि जब एक रात में ऑफिस से बाहर निकल रही थी जब ही वहां दुआ दिखे वो मुझे बात करने के लिए कह रहे थे मुझे लगा कि वो माफी मांगना चाहते हैं और उन्होंने मुझे अपनी कार के लिए बुलाया लेकिन इससे पहले उनके इरादों का अंदाजा होता, उन्होंने मुझसे छेड़छाड़ शुरू कर दी. जिसके बाद मैं उनकी कार से निकली और ऑफिस की कार पकड़ कर बाहर निकल गई. 

निष्ठा ने आगे हाल में हुई एक घटना का जिक्र करते हुए लिखा कि जब मैंने अक्षय कुमार द्वारा मल्लिका दुआ पर सेक्सिस्ट कमेंट के बारे में पढ़ा, तो तो मैंने खुद से कहा कि वह भूल गए हैं कि वह कम सेक्सिस्ट, महिलाओं से नफरत करने वाले और संभावित बलात्कारी नहीं हैं.'
   

DO NOT MISS